NMMS Rajasthan Result 2021-2022 OUT राजस्थान नेशनल मींस कम मेरिट स्कॉलरशिप स्कीम का रिजल्ट जारी

NMMS Result 2021 राजस्थान राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद उदयपुर द्वारा वर्ष 2021 में इस परीक्षा का आयोजन किया गया जिसकी उत्तर कुंजी 18.11.2021 को शाला दर्पण पोर्टल पर जारी की गई थी नेशनल मींस कम मेरिट स्कॉलरशिप स्कीम 2022 का रिजल्ट जारी किया गया है आप नीचे दिए गए लिंक से सीधा रिजल्ट निकाल सकते हैं NMMS Result 2022.

NMMS Result 2021

NMMS Result 2022 Merit list  कैसे निकाले

  • सबसे पहले आपको नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करना होगा जो शाला दर्पण की ऑफिशियल वेबसाइट लिंक है
  • उसके बाद आपको नीचे स्क्रोल कर कर एन एम एम एस एग्जाम 2021 रिजल्ट के टैब पर क्लिक करना है
  • नीचे दिए गए बॉक्स में स्टूडेंट के रोल नंबर मांगे जा रही है जहां आप अपना रोल नंबर डालें
  • उसके बाद स्टूडेंट की जन्मतिथि दर्ज की जाएगी
  • नीचे कैप्चा कोड दिए हुए हैं जो सही से दर्ज करें
  • उसके बाद नीचे सर्च के बॉक्स पर क्लिक कर कर अपना रिजल्ट निकाल सकते हैं

नेशनल मींस कम मेरिट स्कॉलरशिप स्कीम क्या है

नेशनल मींस कम मेरिट स्कॉलरशिप 1 केंद्र प्रायोजित योजना है इसकी शुरुआत 2008 में की गई थी स्कूल शिक्षा एवं साक्षरता विभाग भारत सरकार नई दिल्ली द्वारा इसका संचालन एवं क्रियान्वयन किया जाता है निदेशक राजस्थान राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद उदयपुर इसके राज्य नोडल अधिकारी है अतः राज्य सरकार संचालन और मॉनिटरिंग रारा से  है से उदयपुर द्वारा की जाती है सभी जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक किसके जिला नोडल अधिकारी है

NMMS स्कॉलरशिप में कितनी राशि मिलती है?

एन एम एम एस में चयनित विद्यार्थियों को कक्षा 9 से 12वीं तक नियमित अध्ययनरत रहने पर नियमानुसार ₹12000 प्रतिवर्ष की दर से छात्रवृत्ति मिलती है एन एम एम एस छात्रवृत्ति के तहत छात्रवृत्ति की राशि का भुगतान स्टेट बैंक ऑफ इंडिया द्वारा एक मुश्त किया जाता है राशि को सीधे ही विद्यार्थियों के अकाउंट में स्थानांतरित किया जाता है प्रत्येक राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों को छात्रवृत्ति की संख्या केंद्र सरकार द्वारा आवंटित की गई है

पात्रता व छात्रवृत्ति की निरंतरता हेतु न्यूनतम उत्तीर्ण अंक

  • विद्यार्थी को कक्षा 7 से लेकर 9 तक न्यूनतम 55% अंक लाने होते हैं
  • कक्षा 10 में 60% अंक लाने होते हैं
  • कक्षा 11 में कम से कम 55% उत्तीर्ण अंक लाने होते हैं
  • सभी कक्षाओं में एससी और एसटी के विद्यार्थियों को 5% की छूट है
  • कक्षा 7 8 9 10 एवं 11 में न्यूनतम उत्तरण अंक से कम प्राप्त होने पर पत्र होगा

 

NMMS परीक्षा में चयन करने के बाद में क्या करना होगा?

  • NMMS परीक्षा में चयन के पश्चात स्कूल शिक्षा एवं साक्षरता विभाग शिक्षा मंत्रालय नई दिल्ली तथा नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल के नियमानुसार व दिशा निर्देश के अनुसार छात्रवृत्ति जारी होती है अतःनेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल पर उपलब्ध अद्यतन दिशा निर्देशों का पालन करें,
  • छात्रवृत्ति के लिए आवेदन- परीक्षा में चयनित विद्यार्थियों को कक्षा 9 में प्रवेश लेने के बाद नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल पर पंजीयन करना होगा तथा कक्षा 12 तक हर वर्ष नवीनीकरण करना होगा पंजीकरण और नवीनीकरण विद्यार्थी अभिभावक द्वारा किया जाएगा तथा इस आवेदन का प्रिंट निकाल कर संस्था प्रधान को जमा कराना है
  • वेरीफिकेशन- नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल पर विद्यार्थी की लॉगिन आईडी से पंजीकरण या नवीनीकरण करने के बाद पहले संबंधित संस्था प्रधान तत्पश्चात जिला शिक्षा अधिकारी महोदय द्वारा वेरिफिकेशन किया जाता है
  • नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल पर विद्यार्थी लॉगइन करके छात्रवृत्ति की स्थिति जान सकते हैं

शिक्षामंत्री ने जारी किया NMMS परीक्षा का परिणाम:

  • नागौर की संध्या आई फर्स्ट, बीडी कल्ला ने फोन कर दी बधाई

राजस्थान प्रदेश राष्ट्रीय मीन्स कम मेरिट छात्रवृत्ति परीक्षा 2021 (NMMSS) का शिक्षा मंत्री बीडी कल्ला ने गुरुवार को रिजल्ट जारी किय। छात्रवृत्ति के लिए पिछले साल 17 नवम्बर को परीक्षा का आयोजन किया गया था। जिसमें प्रथम तीन रैंक पर 5 विद्यार्थियों का सिलेक्शन किया गया। जिसमें राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय रामपुरा नागौर की छात्रा संध्या ने फर्स्ट रैंक हासिल की। इस दौरान मंत्री कल्ला ने फोन कर संध्या को बधाई दी।

इस दौरान राजस्थान राज्य शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण संस्थान की निदेशक प्रियंका जोधावत ने वर्चुअल रूप से जुड़करविभाग ने शुरू कि गई नई योजनाओं की जानकारी दी। जोधावत ने बताया कि इस बार विद्यार्थियों और परीक्षा का आयोजन कर रहे समस्त शिक्षकों, अधिकारियों के लिए परीक्षा शुल्क ऑनलाइन लिंक के माध्यम से जमा कराने का प्रावधान किया गया। इसके साथ ही परीक्षा पैटर्न मैं बदलाव कर परीक्षार्थियों को दो प्रश्न पत्रों के स्थान पर एक प्रश्न पत्र दिया गया। वहीं विभाग द्वारा पहली बार चयनित विद्यार्थियों को अंकतालिका और प्रमाण पत्र भी दिए जाएंगे।

बता दें कि राजस्थान प्रदेश राष्ट्रीय मीन्स कम मेरिट छात्रवृत्ति परीक्षा (NMMS परीक्षा) कक्षा 8 वीं के विद्यार्थियों के लिए आयोजित होती है। जिसमें पास होने वाले विद्यार्थियों को 9 वीं से 12 वीं कक्षा के लिए छात्रवृत्ति दी जाती है।

केंद्र प्रायोजित योजना “NMMS” छात्रवृत्ति योजना (एनएमएमएसएस)” मई, 2008 में शुरू की गई थी। इसे मानव संसाधन विकास मंत्रालय के तहत स्कूली शिक्षा और साक्षरता विभाग द्वारा कार्यान्वित किया जाता है। इस योजना का उद्देश्य आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के मेधावी छात्रों को आठवीं कक्षा में ड्रॉप आउट को रोकने के लिए छात्रवृत्ति प्रदान करना और उन्हें माध्यमिक स्तर पर अध्ययन जारी रखने के लिए प्रोत्साहित करना है। रुपये की छात्रवृत्ति।

राज्य सरकार, सरकारी सहायता प्राप्त और स्थानीय निकाय स्कूलों में IX से XII तक की कक्षाओं में अध्ययन के लिए चयनित छात्रों को प्रति छात्र प्रति वर्ष 12000/- (रु.1000/- प्रति माह) दिया जाता है। विभिन्न राज्यों/संघ राज्य क्षेत्रों के लिए छात्रवृत्ति का कोटा है। जिन छात्रों के माता-पिता की सभी स्रोतों से आय रुपये से अधिक नहीं है। 1,50,000/- छात्रवृत्ति प्राप्त करने के पात्र हैं। राज्य सरकार के मानदंडों के अनुसार आरक्षण है। छात्रवृति के पुरस्कार का चयन राज्य सरकारों द्वारा आयोजित एक परीक्षा के माध्यम से किया जाता है। भारतीय स्टेट बैंक द्वारा छात्रों के बैंक खातों में त्रैमासिक आधार पर छात्रवृत्ति सीधे वितरित की जाती है।

“केन्द्रीय विद्यालयों” और “जवाहर ववोदय विद्यालयों” में पढ़ने वाले छात्र इस योजना के तहत छात्रवृत्ति पाने के हकदार नहीं हैं।

राजस्थान बोर्ड क्लास 10 के मॉडल पेपर

NMMS Result 2021 रिजल्ट निकालने के लिए सीधा लिंक (यहां क्लिक करें)

Comment Below For More Discussion